सेहत बनाने के घरेलू नुस्खे
घरेलू उपाय

सेहत बनाने के घरेलू नुस्खे | sehat banane ke gharelu nuskhe

यह कहावत हमारे बीच प्रचलित है “जान है तो जहान है”। इसका मतलब यही है कि जब तक आप खुद को सही सलामत रखेंगे तो ही इस दुनिया में अपने सपने साकार कर सकेंगे। आपने  महसूस किया होगा कि दैनिक दिनचर्या में भी हम आगे बढ़ने के लिए खुद का ध्यान रखना जरूरी माना जाता है। कई बार हम खुद की सेहत पर ध्यान नहीं दे पाते, जो कि गलत है। ऐसे में आप आसानी से घरेलू उपाय से ही खुद का ध्यान रख सकते हैं।

सेहत का ध्यान रखना क्यों है जरूरी?

इस दौड़ भाग वाली जिंदगी में हर इंसान किसी दबाव में रहता है चाहे वह नौकरी, शादी, पढ़ाई, बच्चे, घर, परिवार कोई भी मामला हो सकता है। सेहत में ध्यान रखने पर आप किसी भी बीमारी से आसानी से दूर रह सकते हैं। इस लंबी जिंदगी में कई मुकाम हासिल करने होते हैं जिसके लिए मेहनत की जरूरत होती है। मेहनत वह इंसान कर सकता है जिसने खुद का ध्यान सही से रखते हुए सेहत पर भी ध्यान दिया हो। आप छोटे-छोटे उपायों के माध्यम से भी खुद की और परिवार के प्रत्येक सदस्य की सेहत का ध्यान रख सकते हैं।

सेहत के लिए सबसे आवश्यक बातें

वही इंसान आगे तक बढ़ सकता है, जो अच्छी सेहत के लिए इन बातों को अपने दिलो दिमाग में बैठा ले। सफलता को सेहत का ही पर्याय माना जा सकता है अतः इन मुख्य बातों पर गौर करें।

1). अच्छी नींद जरूर लें — कई बार आपने महसूस किया होगा कि नींद के पूरे नहीं होने पर तबीयत ठीक नहीं लगती है। ऐसे में आप जितने भी थके हुए हो आपको नींद पूरी लेना जरूरी है। पूरी नींद 6 से 8 घंटे को माना जाता है। इससे कम नींद आपकी सेहत को खराब कर सकती है। नींद ले, वह भी सही समय पर। ज्यादा देर तक सोना या देर से सोना भी सेहत को बहुत बड़ा नुकसान पहुंचाती है।

2). खानपान सही रखें— लोगों को ऐसा खाना पसंद आता है, जो स्वादिष्ट हो। इसके साथ ही इस बात को नहीं भूलना चाहिए कि स्वाद के साथ सेहत भी बहुत मायने रखती है। खानपान हमेशा सही समय पर हो जिसमें प्रोटीन, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, मिनरल भरपूर मात्रा में हो। सेहत की फिक्र हो, तो मसालेदार और तीखे खाने से दूर ही रहे।

3). ज्यादा पानी पिए— कम पानी पीना भी सेहत के लिए खतरा हो सकता है। ऐसे में कम से कम 6 से 8 गिलास पानी जरूर पिएं। पानी शरीर को सही तरह से पोषण देकर विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने का भी काम करते हैं।

4). व्यायाम करें— यह हम सभी के लिए आलस का विषय बन जाता है कि सुबह उठकर व्यायाम किया जाए। ऐसे में आप हफ्ते में तीन-चार दिन भी सुबह ठंडी हवा में व्यायाम करें तो सेहत बहुत ही अच्छी हो जाती है। मॉर्निंग वॉक करना एक अच्छा विकल्प हो सकता है। आप इसे खुद को तरोताजा महसूस करेंगे जो सेहत के लिहाज से भी बहुत अच्छा होगा।

5). तनाव से बचें— यह कहना तो आसान लगता है कि ज्यादा तनाव नहीं ले लेकिन अगर थोड़ी गंभीरता से इस बात का पालन करें तो अच्छा होगा। ज्यादा तनाव लेना सेहत के लिए नुकसानदायक होता है। ऐसी बातों को ज्यादा ना ही सोचे जिनका हम पर कोई वश नहीं है। तनाव से ज्यादा बेहतर होगा यदि आप समस्या को हल करने की कोशिश करें ना कि उसमें उलझे ही रहे।

6). साफ सफाई बनाए रखें— सेहत कई मायनों में साफ-सफाई पर भी निर्भर होती है। ऐसे में हमेशा घर पर आसपास सफाई बनाए रखें। गंदगी और धूल कई प्रकार की बीमारियों को बुलावा देते हैं। ऐसे में अच्छे से साफ सफाई रखना ही बेहतर विकल्प है, जो बच्चों और बुजुर्गों के लिए भी कारगर है।

सेहत को सही करने के घरेलू उपाय

अगर सेहत को सही रखना है, तो कुछ खानपान में बदलाव और घरेलू उपायों के माध्यम से खुद को फिट रखा जा सकता है।

1)  आंवला— अगर सुबह आंवले का सेवन किया जाए तो शरीर के समस्त विकार समाप्त हो जाते हैं या खत्म हो जाते हैं। आंवला शरीर को संतुलित करने का भी काम करता है। आप इसे पाउडर, जूस या ऐसे ही खा सकते हैं।

2).  दूध— हमेशा दूध का सेवन करें। अगर रात को सोने से पहले गर्म दूध पिए, तो इससे शरीर में ऊर्जा बनी रहती है। ऐसा देखा जाता है कि सोते समय बहुत ऊर्जा नष्ट हो जाती है ऐसे में दूध उर्जा को बरकरार रखता है।

3). मेथी दाना— इसका उपयोग करना बहुत ही श्रेयस्कर है। इससे खून की कमी दूर हो जाती है और इनमें उपस्थित आयरन खून की कमी को पूरा कर सेहतमंद बनाती है।

4). टमाटर— अपने भोजन में ज्यादा से ज्यादा टमाटर का उपयोग करना फायदेमंद है। इसमें उपस्थित लाइकोपिन रोगों से लड़कर आपको सेहतमंद बनाता है। आप नियमित रूप से इसे सलाद के रूप में भी ले सकते हैं।

5). खजूर— खुद को सेहतमंद बनाने की होड़ में खजूर का सेवन का अवश्य करें। आप चाहें तो इसे रात में दूध में भीगा कर रखें और सुबह इसका सेवन करें। यह उपाय स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत ही फायदेमंद होगा।

6). चुकंदर— सेहत को सही करने में चुकंदर का महत्वपूर्ण योगदान है। खून की कमी को भी पूरा किया जा सकता है। ऐसे में अगर आप चुकंदर के रस को हफ्ते में तीन बार सेवन करें इससे बहुत फायदा होगा, जो सेहत के लिए अच्छा है।

सेहत की देखभाल न करने पर हो सकती है यह बीमारियां

सेहत की देखभाल करने के कई प्रकार के उपाय हैं, जो हमारे लिए आवश्यक हैं। अगर सेहत की देखभाल ना करते हुए लापरवाही की गई तो निश्चित रूप से यह प्राणघातक भी हो सकता है और कई प्रकार की बीमारियां भी हो सकती हैं।

1).  दिल की बीमारी

2).  शुगर की बीमारी

3).   हृदय संबंधित बीमारी

4).   ब्लड प्रेशर की समस्या

5).   कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना

मोबाइल से दूरी बनाना है जरूरी

आजकल देखा जाता  है कि मोबाइल क्रांति आने से लोग रात भर मोबाइल में लगे रहते हैं और अगर नींद ना आए तो चैटिंग करना, मूवी देखना सोशल मीडिया में  सक्रिय बने रहते हैं जो सेहत के लिहाज से सही नहीं है। ऐसे में मोबाइल को दूर रखना ही बेहतर है लेकिन लोग नहीं समझते। मोबाइल रात भर चलाने से सिर दर्द, आंखों में दर्द, थकान, नजर कमजोर होना जैसे समस्या भी देखी जाती है। बच्चे ज्यादातर मोबाइल का उपयोग करते हैं, जो उनकी छोटी उम्र में सेहत से खिलवाड़ है। माता-पिता बच्चों को चुप कराने या परेशान ना करने के लिए मोबाइल पकड़ाते हैं, जो सही नहीं है। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह बहुत ही घातक है।

बच्चों के साथ-साथ बड़ों को भी मोबाइल से दूर रहना जरूरी है, जो सेहत के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है।

सकारात्मक सोच बनाए रखें

किसी भी हालत से निपटने के लिए सकारात्मक सोच रखना बहुत ही जरूरी है। सेहत के साथ यही सोच जरूरी है सकारात्मक सोच के होने पर किसी भी बीमारी से लड़ना आसान होता है। कोशिश करें कि एक ही बात को सोचते ना रहे और खुश रहने की कोशिश करें। सकारात्मक सोच से डिप्रेशन से बाहर आ सकते हैं। जब भी कोई बीमारी होती है, तो सकारात्मक सोच के माध्यम से आराम मिल पाता है ऐसे में खुद का ध्यान रखना ही सेहत के लिए फायदेमंद है।

फल व सब्जियों का सेवन भी  होगा फायदेमंद

अगर आप सेहतमंद रहना चाहते हैं, तो ताजी सब्जियां और फलों का ही उपयोग करें। सब्जियों में पूर्ण पोषक तत्व सम्मिलित हैं, जो सीधे आपकी सेहत सही करने का काम करते हैं। फलों और सब्जियों में प्रोटीन, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर पर्याप्त मात्रा में है, जो संतुलित आहार को इंगित करते हैं। इनके सेवन से किसी भी बीमारी से आसानी से लड़ा जा सकता है।

अगर साथ मे मेवे लिया जाए तो फायदेमंद होगा, यह शरीर को अंदरूनी ताकत देकर शारीरिक विकास को सही करने में मददगार होते हैं। फलों में पाए जाने वाले प्राकृतिक शुगर सुक्रोज, फ्रुक्टोज, गैलेक्टोज शरीर की सेहत को सही करते हैं। ऐसे में मौसमी फलों का सेवन रोजाना करें तो बेहतर होगा। अगर आप घर में यह जूस निकालकर पिए तो फायदेमंद है।

आसान से टिप्स सेहतमंद रहने के

1). प्रत्येक सुबह मॉर्निंग वॉक जरूर करें जिससे आप को ठंडी हवा मिलेगी जो आपको सही सेहत देने में मददगार होगा। मॉर्निंग वॉक के लिए सूर्योदय से पहले के समय को चुने।

2). समय-समय पर डॉक्टर से अपना संपूर्ण परीक्षण करवाते रहें ताकि किसी भी बीमारी से बचा जा सके।

3). अल्कोहल और धूम्रपान से दूर ही रहें यह फेफड़ों के लिए सही नहीं होता है।

4). रात में देर से सोना छोड़ दें।

5). संतुलित आहार और नियमित जीवनशैली अपनाएं जिससे खुद को ही संतुलित रखा जा सके।

6). घर में बड़े बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें।

7). कम से कम दवाइयों का सेवन करें

8).  नकारात्मक लोगों से दूर ही रहे।

बाहर का खाना बिल्कुल बंद कर दे

अगर आपको सेहत की फिक्र हो, तो बाहर का खाना नहीं खाए। इनमें अतिरिक्त मात्रा में वसा, नमक और मसाले होते हैं, जो सही तरीके से शरीर को तंदुरुस्त नहीं रख पाते हैं। जिससे सेहत बिगड़ने का भी डर बना रहता है। बाहर के खाने में गंदगी भी दिखाई देती है, जहां यहां वहां खुले में समान रहता है। जिस पर मक्खियां और दूसरे कीड़े गंदगी फैलाते और हमें बीमार करते हैं। इसमें उपयोग किया गया तेल भी अच्छी क्वालिटी का नहीं होता ऐसे में अपने खाने का विशेष ध्यान रखें और घर का बना खाना ही खाएं।

निष्कर्ष

अगर आपको अच्छी सेहत चाहिए, तो शुरुआत खुद से ही करें। जब तक आप खुद का ख्याल नहीं रखेंगे तब तक परिवार का ख्याल रखना मुश्किल है। इस बारे में बहुत ज्यादा ना सोचे केवल नियमित दिनचर्या और खानपान से सब सही रहेगा। कोशिश करते जाइए और हमेशा खुश रहिए।  लेख पढ़ने के लिए धन्यवाद।

यह भी पढ़े :-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *