घरेलू उपाय

मुहांसों को ठीक करने के घरेलू उपाय

हमेशा इंसान की खूबसूरती का पैमाना उसका चेहरा होता है। ऐसा कहा जाता है कि चेहरा इंसान के दिल की सच्चाई को बयान करता है। यदि आप किसी बात से परेशान या काम की थकान हो, तो उसका असर चेहरे पर साफ तरीके से देखा जा सकता है।

ऐसे में बहुत जरूरी है कि खुश रहा जाए ताकि इसका असर चेहरे पर दिखाई दे। ऐसे में चेहरे को हमेशा स्वस्थ रखा जाना चाहिए। कई बार चेहरे को भी कई प्रकार की समस्याएं होती हैं उनमें से एक हैं मुंहासों की समस्या।

क्या होते हैं मुंहासे | kya hota hai muhase

मुहाँसे एक प्रकार का  त्वचा संबंधी विकार है, जो तेल ग्रंथियों के बहुत ज्यादा सक्रिय होने पर उत्पन्न होते हैं। कभी-कभी ऐसा भी देखा गया है कि मुहांसों का कारण मृत कोशिका बन जाते हैं। यह दर्द वाले होते हैं और अपना आकार भी बदलते रहते हैं। यह कई प्रकार के होते हैं और कई बार इन मुहांसों के कारण चेहरे पर कुछ ज्यादा देखे जाते हैं। मुहांसों होने के शुरुआत में त्वचा लाल हो जाती है और वही से मुहांसों की पहचान की जा सकती है। कई बार मुहांसों के कारण खुजली भी हो सकती है।

मुंहासे होने के कारण- muhase hone ke karan

मुंहासे होने के कई कारण होते हैं

1) तेलीय ग्रंथि का विकास — जब शरीर में तेल की मात्रा बहुत ज्यादा हो जाती है, तो तेल ग्रंथि बहुत जल्दी विकसित हो जाती है और मुहांसे उत्पन्न हो जाते हैं।

2) दवाईयों का साइड इफेक्ट — कई बार ऐसा भी होता है कि दूसरे किसी इलाज के दवाइयों से भी साइड इफेक्ट देखा गया है और यह गलत इफेक्ट चेहरे पर ही नजर आता है।

3) पाचन सही नहीं होना — कई बार पेट की गड़बड़ी से भी मुहांसों का जन्म होता है, तो थोड़ा बचकर और संभल कर ही खान-पान करें।

4) तनाव लेना — जब तक इंसान अंदर से मजबूत नहीं होगा, तब तक वह बाहर से भी मजबूत नहीं हो पाएगा इसीलिए बहुत ज्यादा तनाव लेने से बचें। तनाव लेने से भी मुंहासों की समस्या होने लगती है।

मुहांसों को दूर करने के घरेलू उपाय | muhase ko dur karne ke gharelu upay

मुहांसों की शुरुआत किशोरावस्था में होती है, जब हार्मोन का भी बदलाव होता रहता है। अगर आप भी अपने मुहांसों से लगातार परेशान हैं, तो ऐसे में आप घरेलू उपाय करके भी लाभ ले सकते हैं।

1) मुल्तानी मिट्टी और चंदन पाउडर — अगर आप लगातार मुहांसों से परेशान हो रहे हैं, तो ऐसे में मुल्तानी मिट्टी का उपयोग किया जा सकता है। मुल्तानी मिट्टी चेहरे को ठंडक देते हैं जो मुहांसों को कम करने का काम ही करते हैं। इसके लिए आप  मुल्तानी मिट्टी, चंदन पाउडर को बराबर मात्रा में लेकर उसमें गुलाब जल डालकर मिक्स करें। उसे अपने मुंहासे पर 15 मिनट तक लगा रहने दें उसके बाद ठंडे पानी से धो लें। इस उपाय से आपको फायदा होगा।

2) टूथपेस्ट — आपने आज तक  टूथपेस्ट का उपयोग दांतों को स्वस्थ बनाने में किया होगा लेकिन आप अगर सफेद टूथपेस्ट को मुहांसों पर लगाएं तो इससे और भी ज्यादा फायदा होगा और जल्द ही ठीक हो जाएंगे।

3) संतरे का छिलका — संतरे में विटामिन सी होता है और यह चेहरे के लिए भी फायदेमंद है। अगर आप संतरे के छिलके को तेज धूप में कुछ दिनों तक सुखाकर कर रख ले और फिर उसे कूटकर पीस ले। अब उसे पानी के साथ मिलाकर एक लेप तैयार कर  मुहांसों पर लगाएं तो यह बहुत ही फायदा करेगा।

4) एलोवेरा — इसमें कई प्रकार के औषधि गुण होते हैं जो निश्चित रूप से कई प्रकार की समस्याओं को खत्म कर देते हैं। ऐसे में एलोवेरा को बीच में काट कर उसके गूदे को निकाल कर अपने मुंहासे में लगाएं तो ठंडक मिलेगी और जल्द ही मुहासे ठीक हो जाएंगे। बाजार में मिलने वाले एलोवेरा जेल का उपयोग भी किया जा सकता है।

5) नीम — भारतीय संस्कृति में नीम का विशेष महत्व है। इसे कई प्रकार की बीमारियों को आसानी से ही ठीक कर सकते हैं। अगर आप नीम  में थोड़ा सा पानी डालकर पीस लें और उसे अपने मुहांसों पर लगाएं तो निश्चित ही इससे फायदा होगा।

6) मेथी — मेथी में एंटीऑक्सीडेंट गुण हैं, जो प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाने का ही काम करते हैं। ऐसे में आप मेथी के बीजों का इस्तेमाल कर सकती हैं इसके लिए आप मेथी के बीजों को पानी के साथ पीस लें और उसे मुहासे पर लगाएं। 15 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें इससे ही निश्चित रूप से फायदा होगा।

7) हल्दी — हल्दी में एंटीसेप्टिक गुण है, जो चेहरे की रंगत निखारने में विशेष योगदान देते हैं। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं, जो मजबूती देते हैं। अगर आप हल्दी में थोड़ा सा दूध और एक चम्मच पानी मिलाकर उसे अपने मुंहासे में लगाए तो इससे निश्चित रूप से फायदा होगा।

8) शहद — शहद ऐसा घटक है, जो जीवाणुओं की वृद्धि को कम करने का काम करते हैं। ऐसे में अगर आप थोड़े से शहद को अपने मुहांसों पर लगाएं तो इससे भी फायदा होगा। शहद मुहांसों को बढ़ने नहीं देगा।

9) नींबू का रस — इसमें विटामिन सी होता है, जो त्वचा को सही रखता है और किसी प्रकार के दाग, धब्बों से बचाता है। ऐसे में आप नींबू के रस को नियमित रूप से मुहांसों पर लगाएं तो इससे बड़ा फायदा होगा अतः इसका एक बार जरूर उपयोग करें।

10) सेब का सिरका — सेब का सिरका भी बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। अगर आप इसे अपने मुहांसो पर लगाए तो निश्चित रूप से ही आपको फायदा होगा इसे जरूर आजमाएं।

यह आदतें बनती है कारण मुहांसों का

मुहांसों की असली वजह के लिए हम कई जगह खोज करते रहते हैं लेकिन कभी-कभी मुंहासे हमारी गलत आदत के कारण भी हो सकते हैं। आप  आदतों को बदलकर मुहांसों की समस्या से छुटकारा ले सकते हैं।

1) मेकअप का सामान —  जिस मेकअप के सामान को हम खुद के लिए अच्छा मानते हैं, वह भी कहीं ना कहीं हमारे लिए सही नहीं होते हैं। हर मेकअप के सामान में एक एक्सपायरी डेट होती है उसके अनुसार इस्तेमाल किया जाना सही होता है। मेकअप में इस्तेमाल होने वाले सामान को बिल्कुल साफ करके रखना चाहिए। इससे नए बैक्टीरिया  उत्पन्न नहीं होंगे और मुंहासों  बढ़ नहीं पाएंगे।

2) खान-पान का ध्यान — आजकल कई प्रकार के जंग फूड का चलन जोरों पर है। अगर आपको बहुत ज्यादा मात्रा में तेलीय, मसालेदार, तला हुआ खाना खाते हैं तो ऐसे में आपके लिए नुकसान हैं। अगर आप खाने के शौकीन हैं, तो बहुत भी कम मात्रा में ऐसे  खाने का सेवन करें जिससे कम से कम नुकसान हो सके।

3) साफ सफाई रखें — हमेशा अपने आसपास पूरी सफाई रखें क्योंकि सामानों पर जमी गंदगी, धूल आप को नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसे में आप उस कमरे की ज्यादा सफाई रखें जहां आप ज्यादा समय बिताते हैं इसके अलावा उपयोग किए जाने वाले सामानों की भी साफ सफाई रखें।

4) बार-बार चेहरा धोना —  कई बार ऐसा देखा जाता है कि लोग बार बार अपना चेहरा धोते हैं। इस बात पर ध्यान नहीं देते कि चेहरा धोने से चेहरा रुखा हो जाता है। यह भी एक वजह होती है जब मुहाँसे शुरू होने लगते हैं।

5). चाय कॉफी से दूरी —  बहुत से लोगों को चाय कॉफी पीना बहुत ही अच्छा लगता है और वे दिन में कई कई बार इसका सेवन कर लेते हैं। इन पेय पदार्थों में कैफीन हैं, जो शरीर एवं चेहरे को भी नुकसान पहुंचाती हैं। दिन में एक बार चाय, कॉफी लेना सही रहता है।

मुहांसों से बचने के लिए ले इन आहारो को | muhase se bachne ke liye le ine ahar

कई बार मुहांसों का सीधा संबंध हमारे खान-पान से ही होता है। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि कैसा आहार मुहांसे में लेना होगा।

1) अंडा — अंडे में से कई गुण हैं, जो हमें आंतरिक रूप से मजबूती देते हैं। अंडे की तासीर गर्म होते हुए भी यह मुहांसों को दूर करने में कारगर होता है। इस में उपस्थित कई प्रकार के प्रोटीन और विटामिन मुहांसों से सुरक्षा देते हैं।

2) मेवे — अगर आप मेवो का उपयोग करें खासतौर से काजू का तो यह आपके लिए फायदेमंद है। काजू शरीर की  इम्यूनिटी को बढ़ाता है और किसी भी प्रकार की सूजन को दूर करता है इसीलिए मेवे का सेवन जरूर करें। इसके अलावा काजू में जिंक होता है, जो मुहांसों को दूर करता है।

3) फल — मुहाँसे तेलीय ग्रंथि के सक्रिय हो जाने पर होते हैं। ऐसे में आप पानी वाले फल तरबूज, ककड़ी, खीरे का उपयोग करें तो यह तेलीय  ग्रंथि को विकसित होने से रोकते हैं। इन फलों का सेवन करें।

4). मछली —  जो लोग नॉनवेज खाते हैं, वे मछली का सेवन कर सकते हैं। मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में है, जो मुहांसों को दूर करने का काम करती है।

5) चुकंदर — चुकंदर में अत्यधिक मात्रा में विटामिन, प्रोटीन, कैल्शियम और विटामिन होता है, जो चेहरे से मुहांसों को दूर करने का काम करते हैं। इन्हे आप  सलाद के रूप में भी खा सकते हैं।

6) कद्दू के बीज — आपको ऐसे आहार लेना चाहिए जिन्हें पर्याप्त मात्रा में जिंक हो। ऐसे में कद्दू के बीज बेहतर विकल्प हो सकते हैं। इसमें आप किसी अन्य दाग-धब्बे से दूर  रह सकते हैं।आप  चाहे तो बीजों का पाउडर बनाकर भी सेवन कर सकते हैं।

7) विटामिन युक्त चीजें — ऐसी चीज है जिनमें विटामिन अत्यधिक मात्रा में हो उनका सेवन अपने आहार में करें। मुख्य रूप से गाजर, बींस, पालक, अंडा, फलों का सेवन जरूर करें। इसमें भी मुहांसों की समस्या से निजात मिलेगी।

इन आहारो का सेवन बिल्कुल ना करें

1)  मसालेदार खाना — जब भी आपको मुंहासे हो, तो मसालेदार खाने को ना ही करें। यह शरीर में गर्मी को बढ़ाते हैं और तेलीय ग्रंथि को सक्रिय करते हैं। ऐसे में इन आहारो दूरी बना ले और कुछ दिनों के लिए अपने मसालेदार आहार के शौक को त्याग दें।

2) चाँकलेट —  चॉकलेट खाना हम सभी को पसंद है लेकिन अगर आपको मुहासे हैं, तो इन्हें बिल्कुल ना खाएं। चॉकलेट में डेयरी प्रोडक्ट, रिफाइंड शुगर,  कैफीन है, जो हमारे चेहरे के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है।

3) व्हाइट  ब्रेड— अगर आप व्हाइट ब्रेड का सेवन कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए। ब्रेड में पाए जाने वाला ग्लूटेन मुहांसों को फैलाने का काम करते हैं अतः इन से दूरी  बना ले।

4) चिप्स — बच्चों और युवाओं को चिप्स खाने का शौक होता है। इससे बहुत ज्यादा मात्रा में हानिकारक कार्बोहाइड्रेट, तेल मसाले होते हैं, जो चेहरे को नुकसान पहुंचाते हैं। कोशिश करें और इन चिप्स से दूरी बना ले।

घर पर बॉडी बनाने के तरीके

युवाओं की है मुख्य समस्या

मुंहासों की समस्या मुख्य रूप से युवाओं में ही देखी गई है। इसी उम्र में हार्मोन में विशेष बदलाव होते हैं, जो मुहांसों का कारण होते हैं। इसके बाद उनकी जीवनशैली, खानपान भी असर डालते हैं। ऐसे में युवाओं को सचेत रहने की आवश्यकता है। यदि ध्यान नहीं दिया गया तो यह समस्या बढ़ भी जाती है। ऐसे में विशेष ध्यान दें। युवाओं को ऐसे में खुद पर ध्यान देने की बहुत ज्यादा आवश्यकता है।

निष्कर्ष

इस प्रकार से हमने देखा कि मुंहासे एक ऐसी समस्या है जो बढ़ती जाती है। ऐसे में खुद पर पूरा ध्यान दें, ज्यादा तनाव ना लें और खुश रहें। ऐसा आहार ले ,जो आवश्यक हो और आप को स्वस्थ रखने में सहायक हो। मुंहासे होने के कई कारण हैं उन कारणों को पता कर आगे बढ़े, खुद में आत्मविश्वास बनाए रखें और भविष्य की योजनाओं को सफल करें।