ayurvedic gharelu upay
घरेलू उपाय

खांसी के लिए दवा, खांसी के लिए बेस्ट सिरप, खांसी के लिए बेस्ट टैबलेट

खांसी मनुष्यों में होने वाली एक सामान्य समस्या है इसमें गले में संक्रमण हो जाने के कारण खराश होने लगती है तथा इसी के साथ ही गले में खुजली का भी अनुभव होता है यही खराश कुछ समय बाद खांसी में परिवर्तित हो जाती है।

खांसी के प्रकार

खांसी दो प्रकार की होती है-

  1. सूखी खांसी
  2. बलगम वाली खांसी 

सूखी खांसी में बलगम, खांसी के साथ नहीं निकलता है जबकि बलगम वाली खांसी में खांसने पर गले से बलगम भी निकलता है।

सुखी वाली खांसी के लिए सामान्यतया दवाइयों की आवश्यकता नहीं पड़ती है जबकि बलगम वाली खांसी को ठीक करने के लिए हमें दवाइयों की नियमित आवश्यकता पड़ती है।

आइए हम खांसी को ठीक करने के कुछ तरीकों के बारे में जाने-

खांसी को ठीक करने के लिए सामान्यतः दो प्रकार के तरीकों का इस्तेमाल किया जाता है 

  1. घरेलू उपाय 
  2. एलोपैथी (अंग्रेजी दवाइयां)

घरेलू उपाय ( खाँसी के 10 घरेलू उपचार एवं नुस्खे )

घरेलू उपाय में ज्यादातर घर में दैनिक जीवन में काम आने वाली वस्तुओं का उपयोग करके आयुर्वेदिक तरीके से काढ़ा या मिश्रण तैयार किया जाता है जिसे दिन में दो से तीन बार मरीज को दिया जाता है घरेलू उपाय को आयुर्वेदिक उपाय के नाम से भी जाना जाता है।

खांसी के इलाज के लिए कुछ घरेलू उपाय निम्नलिखित है-

  1. गरम पानी को गले में रखकर गरारा करने से गले में जमा हुआ बलगम पिघल जाता है जिसे खांसी में मरीज को आराम मिलता है।
  2. आधा चम्मच शहद में एक चुटकी इलायची और कुछ नींबू का रस डालें। इस मिश्रण को दिन में तीन बार लें।
  3. हल्दी वाला दूध शरीर के लिए बहुत सारे कार्य जैसे कि एंटी ऑक्सीडेंट, एंटीवायरल, एंटीबैक्टीरियल तत्वों के रूप में फायदेमंद होता है इसलिए खांसी में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल फायदेमंद हो सकता है।
  4. खांसी में तुलसी का काढा भी बनाकर किया जा सकता है इस काढ़े को बनाने के लिए आपको अदरक, काली मिर्च, तुलसी की पत्तियों को एक साथ उबालना चाहिए फिर उसे पीना चाहिए।
  5. खांसी का एक अन्य उपाय यह भी है कि लहसुन को कच्चा चबाने से काफी हद तक खांसी में आराम मिलता है। यदि आपको कच्चा लहसुन चलाने में कोई समस्या है तो आप इसे धीमी आंच में भी भून कर भी चबा सकते है।

एलोपैथिक दवाइयां (अंग्रेजी दवाइयां)

एलोपैथिक दवाइयां कई सारे केमिकल का मिश्रण होती हैं जिनसे खांसी का इलाज किया जाता है।

एलोपैथिक दवाइयों के केमिकल मिश्रण में डिस्ट्रोमेथोरफन, फोलकोडाइन, गाइकेफेनिसिन तथा आईपोक्यून्हा आदि आते हैं।

दिए गए नामों में से पहले 2 नाम वाली दवाइयों का उपयोग सूखी खांसी के लिए किया जाता है तथा बाद वाली दो दवाइयों का उपयोग बलगम वाली खांसी के इलाज में किया जाता है।

ध्यान देने वाली बात

ऊपर दिए जाने वाले घटकों वाली दवाइयां 6 उम्र से कम के बच्चों को नहीं दिया जाना चाहिए तथा इन दवाइयों को बिना डॉक्टर के सलाह के उपयोग में लेने से बचना चाहिए।

खांसी के लिए बेस्ट सिरप

  1. Children’s mucinex cough syrup
  2. Zaebee’s natural cough syrup
  3. Delay cough syrup
  4. Original sambucus syrup
  5. Benzonatate
  6. Guaifenesin
  7. Mucinex
  8. Dextromethorphan

मुख्य रूप से बरसात के मौसम में खांसी की समस्या एक गंभीर समस्या भी बन सकती है अतः ऊपर दिए जाने वाले आयुर्वेदिक या घरेलू उपाय तथा एलोपैथी जिसे हम अंग्रेजी दवाइयां के नाम से जानते हैं का उपयोग करके खांसी से छुटकारा पाया जा सकता है।